हरसिंगार के अद्भुत फायदे । Harsingar ke fayde

हरसिंगार के फायदे , जोड़ों के दर्द , पुराने से पुराने हड्डियों के बीमारी को ठीक करने , harsingar सभी प्रकार के बुखार को ठीक करने में, खांसी, इत्यादि जैसे अनेकों बीमारी में लाभदायक है।

पारिजात के फायदे | Parijat ke fayde

प्रकृति में अनेकों दुर्लभ जड़ी बूटियां एवं पेड़ पौधे उपलब्ध हैं। जिनके औषधीय गुण को सुनकर आप हैरान रह जाएंगे।

आज ऐसे ही एक औषधीय गुणों से निपुण एक पेड़ के बारे में बात करेंगे।

जिसके फूल एवं पत्तियों दोनो के सेवन से अनेकों बीमारियों को खत्म किया जा सकता है।

Harsingar जो की पारिजात के नाम से भी जाना जाता है।

हरसिंगार के फायदे | harsingar ke fayde

हरसिंगार के फायदे अनेक हैं। इसके पत्तियों एवं फूल दोनो का सेवन सेहत के लिए बहोत लाभदायक है।

इसके सेवन से हड्डियों के गंभीर से गंभीर बीमारियों में लाभ मिलता है।

आज हम जानेंगे हरसिंगार अर्थात पारिजात किस किस बीमारी में अत्यंत लाभदायक है।

1.जोड़ों के दर्द में Harsingar के फायदे

हरसिंगार के फायदे हड्डियों के लिए बहोत हैं। जोड़ों के दर्द के लिए हमेसा से हरसिंगर के पत्तों का सेवन किया जाता रहा है।

इसके सेवन के लिए 7 से 8 पत्ते तोड़कर धोलें। उसके बाद पत्तों को पीस लें, 2 कप पानी मिला कर उबालना शुरू कर दें।

हरसिंगार के पत्तों को तब तक उबालें, जब तक पानी आधा ना हो जाए।

उबालने के बाद इसे अच्छे से छान लें। और रोज सुबह खाली पेट इसका सेवन करें।

पारिजात का प्रतिदिन सेवन करने से पुराने से पुराने जोड़ों के दर्द एवं हड्डियों से जुड़ी समस्या को जड़ से खत्म किया जा सकता है।

हड्डियों की गंभीर समस्या , जोड़ों का कमजोर होना , आर्थराइटिस इत्यादि बीमारी में बेहद ही फायदेमंद है।

2. बुखार में हरसिंगार के फायदे

अगर आपको किसी प्रकार का बुखार हो गया हो। तो आप हरसिंगार के पत्तियों का काढ़ा बनाकर सुबह शाम अवश्य सेवन करें।

5 से 6 पत्तियों को पीस कर 2 कप पानी मिलाकर उबालें। पानी आधा हो जाने पर छान कर सुबह शाम सेवन करें।

किसी भी प्रकार का बुखार क्यों न हो इसके सेवन से बुखार में तुरंत राहत मिलेगी।

डेंगू और टाइफाइड जैसी बीमारियों में हुए बुखार में हरसिंगार का सेवन अत्यंत लाभकारी है।

3. खांसी को खत्म करता है

अगर आपको किसी प्रकार की खांसी हो, या फिर आपको बलगम हो गया हो, तो हरसिंगार का सेवन करें।

5 से 6 पत्ते Harsingar के और 4 से 5 तुलसी के पत्तों को तोड़ लें, और धोलें।

पत्तियों को पीसकर उसे 2 कप पानी में उबालना शुरू करें, और पानी आधा होने तक उबालें, और छान लें।

प्रतिदिन सुबह शाम इसका सेवन करें, 3 से 4 दिन सेवन करने से ही किसी भी प्रकार की खांसी में राहत मिलेगी।

और बलगम भी खत्म हो जाएगा। खांसी में इसका सेवन अवश्य करें।

4. पेट के कीड़े मारने में लाभदायक

आजकल बच्चों में पेट में कीड़ा होना आम बात हो गई है। लेकिन यह एक गंभीर समस्या है।

यह समस्या बच्चों एवं व्यस्कों दोनो में पाया जाता है, पेट में कीड़े होने से गंभीर रोगों का सामना करना पड़ सकता है।

पेट के कीड़े मारने के लिए 4 से 5 पत्ते हरसिंगार के लेके उसे पीस कर उसे 2 कप पानी में उबाल लें।

पानी की मात्रा आधी होने पर उसे छान कर सुबह शाम पिएं। प्रतिदिन लगभग 15 दिनों तक इसका सेवन करें।

इसके सेवन से आपके पेट के कीड़े की समस्या के साथ साथ आपके कब्ज जैसी समस्या भी खत्म होगी।

5. गठिया में हरसिंगार के फायदे

Harsingar एक ऐसा वृक्ष है, जो कई तरह के बीमारियों को खत्म करता है।

गठिया रोग में पारिजात का काढ़ा पीने से लाभ मिलता है। हरसिंगार के पत्ते या छाल का काढ़ा बनाकर पीएं।

इसके रोजाना सेवन करने से गठिया जैसी बीमारी छू मंतर हो जाती हैं। गठिया में बहुत लाभदायक है।

6. बाल झड़ने में Harsingar के फायदे

बाल झड़ने की समस्या महिला हो या पुरुष दोनो में आम बात हो गई है।

इसका उपाय अगर न किया गया। तो हमें गंजापन जैसी बीमारी का सामना करना पड़ सकता है। हरसिंगार इसमें भी फायदेमंद हैं।

harsingar के बीज का पेस्ट बना कर इसे सिर पर लगाएं। लगाकर एक आधा घंटा छोड़े। और धोलें।

इससे बाल झड़ने की समस्या में लाभ मिलेगा।

7. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है

पारिजात के सेवन से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इससे आपकों खतरनाक बीमारियों से लड़ने के लिए शक्ति मिलती है।

6 से 7 पत्तों को तोड़कर पीस लें और 2 कप पानी में उबाल लें। जब पानी आधा बचे , इसे छान कर सेवन करें।

इसके उपयोग से विभिन्न प्रकार के रोगों में राहत मिलेगी।

हरसिंगार के बारे में और पड़े

सरकारी फायदे पर ये भी पढ़ें।

अंजीर के फायदेl

Frequently Asked Questions:

हरसिंगार कौन कौन सी बीमारी में काम आता है?

खांसी,जोडों के दर्द ,हड्डियों के पुराने दर्द, गठिया, पेट के कीड़े मारने में , बाल झड़ने और किसी भी प्रकार के बुखार में लाभदायक है।

हरसिंगार का देसी नाम क्या है?

हरसिंगार को कहीं कहीं पारिजात भी कहते हैं।
और बिहार में सिंघार्ड भी बोला जाता है।

हरसिंगार के फायदे ?

हरसिंगार के अनेक फायदे हैं। हड्डियों के इलाज में , खांसी में और बुखार आदि में फायदे मंद हैं।

Leave a Comment